एलोरा की गुफाओं से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां

एलोरा की गुफाओं से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां – आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको एलोरा की गुफाओं से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां देने जा रहे हैं। तो साथियों अगर आप भी एलोरा की गुफाओं से जुड़ी रोचक जानकारियां पाना चाहते हैं आर्टिकल को आखिरी तक पूरा पढ़िए।

यूनेस्को की विश्व धरोहर में शामिल एलोरा की गुफाएं न सिर्फ भारत में बल्कि पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। भारत का सौभाग्य है कि सिर्फ भारत से बल्कि पूरी दुनिया में लोग एलोरा की गुफाओं को देखने के लिए भारत में आते हैं। यदि आपने इतिहास पढ़ा है आपको इतिहास से जुड़ी जानकारी है तो मुझे पूरा यकीन है आपने एलोरा की गुफाओं के बारे में जरूर सुना होगा। एलोरा की गुफा महाराष्ट्र के औरंगाबाद से 30 किलोमीटर दूर एलोरा नामक स्थान पर बनी हुई है। एलोरा नामक स्थान पर बनी होने के कारण इन्हें एलोरा की गुफाओं के नाम से संबोधित किया जाता है।

एलोरा की गुफा संख्या में लगभग 34 गुफाएं हैं हर गुफा में अपनी एक अलग संस्कृति और इतिहास समाहित है। सिर्फ इतना ही नहीं एलोरा की गुफाओं में हिंदू मुस्लिम सिख जैन धर्म बौद्ध धर्म हर धर्म का समुचित समावेश आपको देखने को मिल जाएगा। एलोरा की गुफाओं से जुड़ी ऐसी ढेर सारी जानकारियां है जिसके बारे में हमें और आपको जानने की आवश्यकता है।

Read More – टाइटेनिक से जुड़े कुछ हैरान कर देने वाली जानकारियां

अभी तक हमने एलोरा की गुफाओं के बारे में यूट्यूब और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जो भी सुना है वह आधा अधूरा सच है। एलोरा की गुफाओं से जुड़ी ऐसी ढेर सारी जानकारियां है जिसके बारे में आज भी लोगों को जानकारी नहीं है। लोगों की इसी जानकारी को बढ़ाने के लिए और लोगों को सही जानकारी देने के लिए हम आज का यह आर्टिकल लेकर आए हैं जिसमें हम आपको एलोरा की गुफाओं से जुड़ी सभी जानकारियां डिटेल से देंगे।

एलोरा की गुफाओं से जुड़ी रोचक जानकारियां

आइए साथियों अब हम आपका ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए आपको एवं की गुफाओं से जुड़ी रोचक जानकारियों के बारे में बताते हैं। एलोरा की गुफाओं से जुड़ी रोचक जानकारियों के बारे में नीचे डिटेल से समझाया गया है।

  • एलोरा की गुफाओं का इतिहास सर्वप्रथम 350 से लेकर 700 ईसवी के बीच लोगों के सामने आया।
  • द ग्रेट कईलेसा एक ऐसी गुफा है जो एलोरा की गुफा संख्या में सबसे बड़ी गुफा मानी जाती है।
  • इतिहासकारों ने शोध करने के बाद पैसा बताया है कि एलोरा की गुफाओं का इतिहास 4000 सालों से भी पुराना है।
  • कई जगह पर एलोरा की गुफाओं को वेरुल लेनी के नाम से भी संबोधित किया जाता है।
  • बहुत से इतिहास में यह भी लिखा है कि एलोरा की गुफाएं जब बनाई जा रही थी तो साधु संतों ने एलोरा की गुफा को बनाने के लिए एलियन को धरती पर बुलाया था। एलोरा की गुफाओं में की गई नक्काशी और कला एलियन के द्वारा की गई है। ऐसा लोगों का मानना है।
  • गुफा नंबर 10 एलोरा की 35 गुफाओं में एक ऐसी गुफा है जिसे भगवान विश्वकर्मा को समर्पित किया गया है। आपको जानकर हैरानी होगी यह इकलौती ऐसी गुफा है जिसमें भगवान गौतम बुद्ध की भी 15 फुट ऊंची मूर्ति है।
  • एलोरा की गुफाओं के अंदर-अंदर दरबार तथा जैन धर्म से जुड़ी विशेष कलाकृति और उनके इतिहास को भी भरपूर तरीके से प्रदर्शित किया गया है।
  • महाराष्ट्र में आए ज्वालामुखी के उपरांत जमे हुए लावे को काट करें एलोरा की गुफाओं का निर्माण किया गया है ऐसा लोगों का मानना है।
  • एलोरा की गुफाओं के अंदर हर धर्म के बारे में जानकारी दी गई है। प्रारंभ की 12 गुफाएं बौद्ध धर्म से संबंधित है। इसके बाद 13 से लेकर 29 नवंबर तक की गुफा हिंदू धर्म से संबंध रखती हैं। अंत की गुफाएं जैन धर्म को समर्पित
  • एलोरा की गुफा को देखने के लिए ना सिर्फ भारत के लोग बल्कि पूरे विश्व के लाखों लोग वर्ष में आते हैं। प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में लोग एलोरा की गुफा में आते हैं।

निष्कर्ष

तो साथियों यह आज आपके लिए एक छोटी सी जानकारी थी। आज इस आर्टिकल में हमने आपको एलोरा की गुफाओं के बारे में जानकारी दे। इस आर्टिकल में हमने आपको एलोरा की गुफाओं का इतिहास तथा एलोरा की गुफाओं से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियों के बारे में बताया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *