NASA full form (NASA का फुल फॉर्म क्या है?) NASA क्या है ?

NASA full form  नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका “TRENDS FACTS” मैं। आज हम बात करने वाले हैं या फिर तो जो दुनिया भर में सबसे ज्यादा पूछी जाती है या पूछी जा रही हैं।

दोस्तों हम बात कर रहे हैं, NASA के बारे में। आज हम बताएंगे कि NASA का फुल फॉर्म क्या है? What is the full from of NASA? , NASA क्या है? What is NASA? और भी ऐसे कुछ Intresting facts जिन्हें जानकर आप हैरान हो जाएंगे। Interesting facts about NASA.. दोस्तों आपको इसमें नासा के बारे में बहुत कुछ जाने दो मिलेगा तो बने रहे हमारे साथ। दोस्तों बिना समय बर्बाद किए चलिए शुरू करते हैं।

NASA full form (NASA का फुल फॉर्म क्या है?) NASA क्या है ?

NASA क्या है ? WHAT IS NASA?

दोस्तों NASA(The National Aeronautics and Space Administration) यानी की (राष्ट्रीय वैमानिकी और अन्तरिक्ष प्रबंधन) यहीं NASA का full form है , This is the Full form of NASA… दोस्तों नासा का नाम किसने नहीं सुना होगा। मुझे लगता है की,जरूर सुना क्योंकि ये पूरे विश्व भर में सबसे प्रचलित और प्रभावशाली स्पेस स्टेशन संचालक जो है।

यहां भी हमारे देश भारत में स्थित ISRO यानी (Indian Space Research Organisation) तरह ही है। अभी अंतरिक्ष में विमानों को प्रशिक्षण के लिए हमेशा भेजते रहता है। और नई नई तरह की खोज तथा जानकारियां भी हमें प्रदान कराता रहता है। इसकी स्थापना 1 अक्टूबर सन 1958 ईस्वी में हुई थी। इसके संस्था कार्यपालक थे-Charles bolden and Lorry garver…

इस अंतरिक्ष प्रबंधन को खास तौर पर अंतरिक्ष में मौजूद तरह-तरह की इन चीजों की खोज करने के लिए स्थापित किया गया था मानव अंतरिक्ष तक जाकर वहां की सारी गुत्थियों को सुलझा पाए और उससे मानव जीवन को एक नई रोशनी मिल जाए। और मानव इस बदलती दुनिया में एक कदम और आगे निकल जाए।

हालांकि इसने अभी तक बहुत सारे स्पेस मिशंस को अंजाम दिया है जिनमें से सबसे प्रसिद्ध अपोलो मिशन को माना जाता है इसी अपोलो मिशन के माध्यम से नील आर्मस्ट्रांग ने सर्वप्रथम चंद्रमा की धरती पर अपना प्रथम चरण रखा था और इस दुनिया के इतिहास को बदल के रख दिया था और मानव के जीवन में एक नई तरह की होड़ लादी थी। हर कोई चाहने लगा कि वह बड़ा होकर एक न एक दिन चांद पर कदम जरूर रखेगा और अपने और अपने देश का नाम गर्व से ऊंचा कर देगा।

What is The Full From of NASA? (NASA का फुल फॉर्म क्या है?)

दोस्तों नासा का फुल फॉर्म हमने निचे बताय है जो एकदम सटीक है  NASA(The National Aeronautics and Space Administration)

More Things to know about NASA:-

दोस्तों हमने बात की नासा से कुछ संबंधित बातों के बारे में। अब हम बात करेंगे इससे जुड़े कुछ सबसे बड़े और महत्वपूर्ण चीजों के बारे में जैसे कि नासा की सबसे पहली उड़ान कौन सी थी और भी बहुत कुछ।

दोस्तों क्या जानते हैं नासा के क्वार्टर कहां है अतः यह कहां स्थित है? तो दोस्तों आपको बता दें किसका है क्वार्टर अमेरिका के Washington DC मैं स्थित है जहां से यह अपने सारे स्पेशल स्टेशंस का संचालन भी करता है।

नासा का जो सबसे पहला यानी सर्वप्रथम मानव मिशन के बारे में अगर बात करें तो नासा ने तो इसे 1958 ईस्वी से ही शुरु कर दिया था पर इनमें से कोई भी सफल नहीं हो पाया। अर्जुन आशा का सबसे महत्वपूर्ण मिशन और कहे तो शुरुआती मिशन अपोलो को माना जाता है।

सिर्फ माना ही नहीं जाता बल्कि दुनिया का जो पहला मिशन जिसने इंसान को चांद के जमीन पर उतार दिया उस मिशन का नाम अब बोलो 11 ही था जो सन 1969 ईस्वी को शुरू किया गया इसी में दुनिया के सर्वप्रथम व्यक्ति जिन्होंने चांद की जमीन पर अपना कदम रखा वही इस में बैठे हुए थे इन्होंने अपने crew members के साथ में इस मिशन को अंजाम दिया और सही सलामत तथा सुरक्षित अपने जमीन यानी कि पृथ्वी पर उतर आए।

इस कंपनी को अभी Jim Bridenstine चलाते हैं सीधी बस हमें आपको कहे तो यह अभी नासा के मालिक हैं। दोस्तो आप के दिमाग में एक सवाल जरूरत होगा कि आखिर नाशक में कौन पैसा खर्च करता है। तो दोस्तों जैसा हमने ऊपर ही बताया आपको कि नासा एक अमेरिकी एजेंसी है, जो विश्व की सबसे बड़ी स्पेस एजेंसी है इसी कारण इसके जो भी खर्च होते हैं।

उसमें सरकार और नासा दोनों की दोनों मिली हुई होती है क्योंकि इससे होने वाले मिशन या फिर नई तरह की खोजों में जो भी मुनाफे होते हैं उससे सरकार को भी बड़े पैमाने पर फायदा होता है जिससे देश की तरक्की भी होती है।

कुछ साल पहले नासा नहीं है मिशन किया था जिसे हम मार्स मिशन के नाम से भी जानते हैं। इस मिशन में नशा है एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वाला रोबोटिक रोवर को भेजा। जो वहां के वातावरण के कारण ज्यादा समय तक नहीं टिक पाया लेकिन उसने इतनी समय में कई सारी तस्वीरें नासा की हेड क्वार्टर्स में भेज दी जिससे नासा को काफी फायदा हुआ, यह जानने में कि वहां की धरती कैसी है वहां कैसा वातावरण है वहां निरंतर होने वाली घटनाओं के बारे में उन्हें कहीं सारी जानकारियां मिली जिससे आने वाले समय में जब हुआ इंसानों को Mars पर भेजेगा तो उसे काफी सहायता मिलेगी।

नासा के बारे में 10 रोचक तथ्य (10 Interesting facts about NASA)

दोस्तों अब तक में बात की नासा क्या है नासा कहां है का मालिक कौन है और इसका मुख्य मिशन कौन सा है। पर अब हम बात करने जा रहे हैं नासा से संबंधित कुछ ऐसे क्यूरियस तथ्यों के बारे में जिन्हें शायद आप भी नहीं जानते होंगे। पर आज हम आपको बताएंगे इसके बारे में 10 Interesting facts को (10 Interesting facts about NASA)

  •  दोस्तों क्या आप जानते हैं एस्ट्रोनॉट्स जोकि स्पेस में जाकर स्पेस मिशन को पूरा करते हैं, उन्होंने काफी भारी भरकम से सूट पहने हुए होते हैं। पर क्या आप जानते हैं कि वे सारे सूट कितने रुपए के होंगे उनकी प्राइस क्या है? तो दोस्तों मैं आपको बता दूं एक एस्ट्रोनॉट का सूट लगभग $12000000 का आता है, जो कि दोस्तों काफी ज्यादा महंगा है। पर दोस्तों यह स्पेस सूट धरती पर कितना भारी होता है उतना अंतरिक्ष में नहीं होता क्योंकि हमारे धरती के गुरुत्वाकर्षण बल के कारण वह स्पेशल काफी भारी भरकम साबित होता है पर वही अगर हम अंतरिक्ष की बात करें तो वहां पर गुरुत्वाकर्षण ना के बराबर होती है जिसके कारण वह स्पेसशूट काफी हल्का महसूस होता है।
  • दोस्तों आप में से बहुत सारे लोग यह भी सोचते होंगे कि आखिर स्पेस में एस्ट्रोनॉट्स पानी कैसे पीते होंगे? या फिर उनके यहां पानी किस प्रकार पहुंचाया जाता होगा? या उनके पास पानी कहां से आता होगा? तो दोस्तों आज आपकी इन सभी सवालों का जवाब हम देंगे। जी हां दोस्तों स्पेस में पानी तो पिया जाता है लेकिन वहां पर पानी ले नहीं जाया जा सकता तो फिर आप सोचेंगे वहां पानी आता कहां से होगा तो हम आपको बता दें कि शॉट्स अपने ही पेशाब को प्यूरिफाई करके पीते हैं। क्योंकि अगर स्पेस में पानी ले जाया गया और कहीं से भी किसी मशीन में पानी गलती से भी चला गया तो पूरे स्टूडेंट्स की जान को खतरा हो सकता है इसी खतरे से बचने के लिए वहां पर पानी का आयात निर्यात नहीं किया जाता।
  • तो सो बढ़ते हैं अब तीसरे interesting fact ke taraf और वह फैक्ट है कि आखिर एस्ट्रोनॉट्स अंतरिक्ष में नहाते कैसे होंगे। तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दोस्तों astronauts स्पेस में नहीं नहाते हैं। वह इस्तेमाल करते हैं लिक्विड सॉप जोकि लिक्विड के फॉर्म में एक साबुन जैसा होता है जो एक पाउच में बनाया हुआ होता है। इसे एस्ट्रोनॉट्स अपने शरीर पर मल कर तौलियों से पोछ लेते हैं।
  • दोस्तों आप सबके मन में एक सवाल जरूर होगा कि आखिर ना सके अंदर काम करने वाले साइंटिस्ट और इंजीनियर्स की सैलरी कितनी होगी वह कितना कमाते होंगे? तो दोस्तों आप जानकर हैरान रह जाओगे कि नासा के एक एंप्लॉय का सालाना सैलरी US$100000 की है। अगर हम इसे इंडियन करेंसी में देखे तो यह लगभग 80 लाख के बराबर है।
  • दोस्तों आप सबके मन में एक सवाल उठता होगा किया ना के अंदर कितने सारे वर्कर्स काम करते है? दोस्तों आप सुनकर दंग रह जाओगे कैलासा में कुल 17 से 18 हजार वर्कर्स काम करते हैं जिनमें 15 परसेंट वर्कर इंडियन है। दोस्तों हमें गर्व होना चाहिए इतने बड़े स्पेस एजेंसी में 15 परसेंट वर्कर्स हमारे इंडियन है।

About the post:-

आज हमने बहोट से ऐसे NASA interesting factsNASA full form को जाना जो कि हम शायद ही पहले जानते होंगे। दोस्तों हमने आज इस टॉपिक पर इसलिए समझाया क्योंकि  लगभग हर लोगों के जेहन में एक सवाल बनके बैठा हुआ था।

हमने इसी चीज को दूर करने के लिए NASA से रिलेटेड हर एक फैक्ट्ज हर एक इंफॉर्मेशन को आपके सामने रखा जैसे कि “नासा क्या है”? ” What is NASA”? “NASA का फुल फॉर्म क्या है”? ” What is the full form of NASA” और भी कुछ रोचक तथ्य।

दोस्तों हमारा काम अब तक वह हर जरूरतमंद जानकारी को पहुंचाना है जिसकी जरूरत आपको है जिसके बारे में आप जानना चाहते हैं। हम आशा करते हैं कि यह जानकारी आपके काम आई होगी। अगर आप कोई आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

धन्यवाद!!!!!!

दोस्तों अगर आप इंसानी आँख के बारे में रोचक तथ्य जानना चाहते है तोह निचे दी हुए लिंक पर क्लिक कर के हमारे इस आर्टिकल को जरूर पढ़े

CLICK HERE

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *