श्री राम मंदिर के निर्माण में फिर से आ गई थी एक बड़ी अड़चन, बड़े बड़े एक्सपर्ट…

फ़िलहाल अयोध्या में श्री राम जन्म स्थान पर भव्य श्री राम मंदिर का निर्माण कार्य जोरों शोरों से चल रहा है। लेकिन कोर्ट द्वारा राम मंदिर के हित मे फैसला सुनाए जाने के बाद और राम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन के बाद में राम मंदिर निर्माण के लिए एक बड़ी मुश्किल समस्या का सामना करना पड़ा था।

दरअसल सरयू नदी भगवान श्री राम मंदिर निर्माण के लिए प्रस्तावित स्थल पर नींव के नीचे पाई गई है, जिससे निर्माण कार्य में परेशानी हो रही थी। इसके लिए देश के आईआईटी विशेषज्ञों से मदद मांगी गई, वे इस समस्या का समाधान खोजने में लगे थे।

Ram Mandir Kab Tak Banega

समाधान खोजते हुए पाया गया कि राम मंदिर के लिए जो पुराना डिजाइन तैयार किया गया था इस समस्या के पाए जाने के बाद वह डिजाइन उपयुक्त नहीं है। इसलिए राम मंदिर ट्रस्ट ने आईआईटी से इस समस्या के समाधान के लिए मदद मांगी।

अब मंदिर निर्माण के लिए मंदिर की नींव को पहले से अधिक मजबूत बनाया जा रहा है और 1200 मजबूत खंबे बनाने कि योजना बनाई गई है। मंदिर की नीव को मजबूत बनाने के लिए इस योजना की भी पूरी जांच की जाएगी और देखा जाएगा कि क्या नीव भूकंप या अन्य प्राकृतिक आपदा को खेल सकते है या नहीं।

कुल मिलाकर कहा जाए तो अब समस्या का समाधान मिल चुका है और जोरो शोरों से मंदिर निर्माण का कार्य चल रहा है अपने तय समय सीमा तक अर्थात 2023 तक श्री राम मंदिर का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा और देश विदेश के करोड़ों भक्तो का वर्षों पुराना सपना भी पूरा हो जाएगा।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *